कोरोनावायरस के कारण गल्फ टूरिज़्म उद्योग को 60 अरब डॉलर नुकसान होने की सम्भावना

वैश्विक कोरोनावायरस महामारी से संबंधित चल रहे प्रतिबंधों के कारण गल्फ पर्यटन उद्योग को 2020 के दौरान $ 60 बिलियन तक का नुकसान हो सकता है।

कंसल्टेंट्स फ्रॉस्ट एंड सुलिवान द्वारा किए गए एक शोध रिपोर्ट में कहा कि सऊदी अरब, यूएई, कतर सहित पूरे खाड़ी देशों को लगभग 50-50 अरब डॉलर वित्तीय नुकसान का अनुमान लगाया गया है, जिसमें होटल उद्योग को संभावित रूप से $ 15 अरब डॉलर तक का नुकसान होने की संभावना है। पढ़े-खाड़ी सहयोग परिषद & GCC का गठन व उद्देश्य?

फ्रॉस्ट एंड सुलिवन के रिपोर्ट के अनुसार जीसीसी (खाड़ी) देशों में पर्यटन उद्योग पिछले पांच वर्षों में लगभग 10% तक की वृद्धि हुई है। इस वृद्धि के आधार पर, इस क्षेत्र में कुल यात्रा और पर्यटन खर्च 2020 में $ 110 बिलियन तक पहुंचने की उम्मीद थी, लेकिन कोरोनावायरस ने सभी अनुमानों को नाटकीय रूप से बदल दिया है।

दुबई ने धीरे-धीरे जुलाई में अपने पर्यटन क्षेत्र को फिर से खोल दिया था, जबकि अबू धाबी अंतरराष्ट्रीय आगंतुकों को अनुमति देने के लिए पिछले महीने तक से, सऊदी अरब ने नए प्रकार के कोविड -19 वायरस फैलने के बाद 20 दिसंबर को अपनी वायु, भूमि और समुद्री सीमाओं को फिर से बंद कर दिया था और पिछले हफ्ते इससे पुनः खोल दिया गया है, जबकि ओमान 29 दिसंबर को फिर से खुल गया था। पढ़े-क्या आप एक प्रवासी है? अपने रिटायरमेंट की योजना बना रहे हैं?

शोध में कहा गया है कि इस देशों में सऊदी अरब के नेतृत्व में घरेलू पर्यटन में वृद्धि देखी गई है, क्योंकि अधिकांश देशों ने वर्ष के लंबे समय तक अंतरराष्ट्रीय आगंतुकों के लिए अपनी सीमाएं बंद कर दीं थी। 

यूएई में आई-पीएल टी 20 चैंपियनशिप ने बायो-बबल के खेल का नेतृत्व किया और इस टूर्नामेंट को लागू किया, जिसमें 300 से अधिक प्रतिभागियों ने तीन शहरों में 24 मैचों में भाग लिया था। पढ़े-क़तर 1971 से अब के अमीरों की सूची व संक्षिप्त इतिहास

फ्रॉस्ट एंड सुलिवन ने अपने रिपोर्ट यह भी कहा कि उम्मीद है कि वैश्विक क्लाउड रसोई बाजार (होटल) 2030 तक $ 1 ट्रिलियन तक बढ़ जाएगा। ऑपरेटरों कों विदेशी और शहरी-कृत जीसीसी बाजार में मजबूत पैर जमाने का मौका मिलेगा। पढ़े-अल उला, किदिया और रेड सी प्रोजेक्ट के बाद क्या सऊदी अरब पर्यटन स्थल में बदल जाएगा? 

रिपोर्ट में कहा गया है कि भविष्य में, रसोई (फूड) जैसे अधिक प्रयोगों किए जाने वाले आइटमों का होम डिलीवरी की मांग मे बढ़ोतरी देखी जा सकती है, थर्ड-पार्टी डिलीवरी एक प्रवृत्ति होगी जो खाने-पीने के मौजूदा स्टे-पल की जगह ले-लेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here