कुवैत ने 35 ‘उच्च जोखिम वाले देशों’ पर लगाए गए यात्रा प्रतिबंध को हटा दिया है

कुवैत सिविल एविएशन महानिदेशक (DGCA) ने घोषणा की कि जिन 35 देशों को ‘हाई रिस्क’ घोषित किया गया था उन देशों के यात्रियों के यात्रा प्रतिबंध को 21 फरवरी 2021 से हटा दिया जायगा और उन्हे सीधे देश मे यात्रा करने की अनुमति होगी लेकिन कुवैत आने वाले सभी यात्रियों को अपने खर्च पर होटल में अनिवार्य रूप से 14 दिन कोरेंटाइन रहना होगा। पढ़े-खाड़ी सहयोग परिषद & GCC का गठन व उद्देश्य?

कुवैत सिविल एविएशन महानिदेशक (DGCA) के डिप्टी डायरेक्टर सालेह अल फडघी ने बताया कि इस आशय के लिए 45 होटलों को चुनने का विकल्प उपलब्ध हैं जहाँ कोरेंटाइन रहा जा सकता है। 

बयान में कहा गया है कुवैत के छात्रों, 18 से कम आयु के लोगों और राजनयिक कोर के सदस्यों को इस फैसले से छूट है। पढ़े-क्या आप जानते हैं संयुक्त अरब अमीरात का कब और कैसे गठन हुआ था !

कुवैती न्यूज़ पेपर के अनुसार 14 दिनों के होटल कोरेंटाइ शुल्क निम्नानुसार होगा, 

पांच-सितारा होटल में एक डबल रूम के लिए 725 कुवैती दीनार और सिंगल रूम के लिए 595, चार-सितारा होटल में एक डबल रूम के लिए 530 कुवैती दीनार और सिंगल रूम के लिए 400 कुवैती दिनार, तीन-सितारा होटल में डबल रूम  के लिए 400 और सिंगल रूम के लिए 270 कुवैती दिनार का भुगतान करना होगा। सभी यात्रियों को सबूत दिखाना होगा कि उन्होंने होटल आरक्षित किया है और उनके आने से पहले कुवैत मोसेफर ऐप्लिकेशन (Kuwait Mosafer application) पर पंजीकरण कराया है। पढ़े-गोल्ड कैरेट क्या हैं? 24K, 22K और 18k के बीच क्या अंतर है

स्थानीय मीडिया ने सूत्रों का हवाले लिखा है कि उच्च जोखिम वाले देशों की सूची का विस्तार हो सकता है जिसमें कुल 60 देश शामिल हैं 33 नए देशों को शामिल किया गया हैं।

यात्रा प्रतिबन्धों से छूट पाने वाले देशों की सूची अभी उपलब्ध नहीं कराई गई है। 

स्रोत-कुवैत न्यूज़ एजेंसी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here