सऊदी परिवहन और रसद मंत्रालय ने अपने सेवाओं को स्थानीय-करण करने की शुरुआत

रियाद, सऊदी अरब मानव संसाधन (Ministry of Human Resources) और सामाजिक विकास मंत्रालय (Social Development ministry) ने गुरुवार को परिवहन मंत्रालय, मानव संसाधन विकास कोष (Hadaf) और सऊदी चैंबर्स ऑफ कॉमर्स के साथ किंगडम में परिवहन और रसद सेवाओं को स्थानीय-करण करने के लिए एक एमओयू समझौते पर हस्ताक्षर किए। पढ़ेSaudization और Nitaqat प्रोग्राम का प्रवासी श्रमिकों पर प्रभाव

समझौता पर मानव संसाधन और सामाजिक विकास मंत्री अहमद अल-राजी, परिवहन मंत्री सालेह अल-जस्सर, सऊदी चैंबर्स ऑफ कॉमर्स के उपाध्यक्ष तारीक़ अल-हिदी, और Human Resources Development Fund (हदफ) के डायरेक्टर जनरल तुर्क अल-जवानी द्वारा एमओयू सह-हस्ताक्षर किए गए है। पढ़ेसऊदी अरब, निताकात, रंग, श्रेणियाँ और लाभ

अल-राज़ी ने कहा कि MoU परिवहन और रसद क्षेत्र के लिए सऊदी विज़न 2030 के अनुरूप कई महत्वपूर्ण लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करेगा, विशेष रूप से “एक सफल साझेदारी निजी क्षेत्र और नागरिक समाज संस्थानों में सउदी कर्मीयो को अधिक रोज़गार के अवसर प्रदान करेगा।

फिलहाल प्रत्येक विभागों द्वारा निभाई जाने वाली भूमिकाओं पर विस्तृत चर्चा करना अभी बाकी है, लेकिन सामाजिक विकास मंत्री अल-राज़ी ने “राष्ट्रीय” लक्ष्यों की प्राप्ति और सऊदी-करण के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के इच्छावों पर जोर दिया हैं। पढ़े-आईटी और संचार सेक्टर को सऊदी-करण करने की घोषणा

परिवहन मंत्री अल-जस्सर ने कहा कि ये एमओयू समझौता किंगडम को वैश्विक लॉजिस्टिक हब (Global logistics hub) में बदलने के रास्ते मे पहला कदम हैं। पढ़े-सउदी अरब में भारतीय पासपोर्ट ऑनलाइन अपॉइंटमेंट प्रक्रिया

उन्होंने कहा “हम अपने प्रयासों और विज़न 2030 मिशन के अनुसार व्यवसायों को स्थानीय-करण  करने के अलावा, युवा सऊदी प्रतिभाओं को सार्वजनिक और निजी क्षेत्रों में रचनात्मक और उत्पादक मानव ऊर्जा को रोज़गार के माध्यम से सभी परिवहन और रसद सेवाओं और गतिविधियों में सुधार करने के लिए उत्सुक हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here