सऊदी अरब मे 2,799 प्रवासी इंजीनियरों को फ़र्ज़ी प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने के जुर्म मे पकड़ा गया है

सऊदी अरब के स्थानीय मीडिया मे प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार 2,799 प्रवासी इंजीनियरों को मर्ज़ी प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने के जुर्म मे पकड़ा गया है। 

सऊदी काउंसिल ऑफ इंजीनियर्स के महासचिव इंजीनियर फरहान अल शम्मरी ने कहा कि विभिन्न राष्ट्रीयताओं के प्रवासियों को अभियोजन पक्ष का सामना करना पड़ रहा है, क्योंकि उनके इंजीनियरिंग और तकनीकी प्रमाण-पत्र जाली पाए गए है। उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के लिए संबंधित अधिकारियों को रिपोर्ट भेज दिया गया है। पढ़े-सऊदी अरब मे बिना लाइसेंस वाले इंजीनियरों को नौकरी देने पर SAR 1 मिलियन का जुर्माना

उन्होंने कहा कि सऊदी काउंसिल ऑफ इंजीनियरीग सालों से काम कर रही है कि वे अयोग्य श्रेणी के लोगों को ट्रैक करें जो जाली प्रमाण पत्र रखते हैं और अवैध रूप से इंजीनियरिंग, स्पेशलाइज्ड और तकनीकी व्यवसायों में काम कर रहे हैं। 

अल शमरी ने कहा कि हमारी प्राथमिकता उन लोगों को चिहीत कर किंगडम से निकालना है जो तकनीकी और पेशेवर नौकरियों में आवश्यक योग्यता के बिना ही नौकरी कर रहे हैं.

किंगडम मे पहले से ही अनिवार्य कर दिया गया था की सभी पेशेवर अपने नियुक्त योग्यता के अनुसार ही काम कर सकते है यानि इकामा पर दर्ज पेशे के अनुसार। पढ़े-चेक करें आप के इकामा पर कितने सिम कार्ड पंजीकृत है / जांच प्रक्रिया  

काउंसिल के महासचिव ने अयोग्य तकनीशियनों, स्पेशलाइज्ड तकनीशियनोंऔर सहायक इंजीनियरों को उजागर करने की आवश्यकता पर प्रकाश डाला है ,उन्होंने कहा ऐसे लोग जो उन परियोजना मे काम कर रहे हैं प्रोजेक्ट की सुरक्षा के लिए जोखिम पैदा करते हैं, इस प्रकार ये लोग इंजीनियरिंग और निर्माण क्षेत्र की गुणवत्ता और उत्पादन को भी प्रभावित करते हैं।

सऊदी विज़न 2030 के अनुसार प्रवासी समुदाय मे योग्य, विश्वसनीय और गुणवत्ता के उच्चतम स्तर के श्रमिकों की जरूरत है। पढ़े-सऊदी अरब, इकामा चिकित्सा बीमा की स्थिति ऑनलाइन जांचें करे

अल शमरी ने कहा कि सऊदी इंजीनियरिंग काउंसिल जाली प्रमाण पत्र प्रस्तुत कर बिल्डिंग और निर्माण क्षेत्र में नौकरी प्राप्त करने वाले व्यक्ति पर कड़ी निगरानी रखा रहा है इस प्रकार के लोग राष्ट्र की क्षमताओं और अर्थव्यवस्था के साथ छेड़छाड़ कर रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here