Tuesday, May 28, 2024
Homeयोर मनीकुछ प्रवासी वर्षों विदेश में नौकरी करने के बाद भी क्यों गरीब...

कुछ प्रवासी वर्षों विदेश में नौकरी करने के बाद भी क्यों गरीब रह जाते हैं

देश में हर कोई सोचता है कि जो विदेशों में काम कर रहे है जैसे सऊदी अरब, दुबई, यूएई, कतर, कुवैत या किसी अन्य देश में वो अच्छा पैसा कमा कर बेहतर जिंदगी जी रहे है। स्वस्थ भोजन कर रहे हैं और अपने भविष्य के लिए बचत भी कर रहे हैं। 

लेकिन हकीकत में स्थिति उनके विचारों से विपरीत होती है कई प्रवासी घर लौटने के बाद भी गरीब बने रहते हैं उन्होंने वर्षों-दशकों तक विदेशों में कड़ी मेहनत कर अच्छी कमाई की होती है। लेकिन वे अपने भविष्य के लिए कोई बचत योजना नहीं बनाते है इसके पीछे कुछ मुख्य कारण हैं। पढ़े-सऊदी लेबर लॉ के अनुसार सार्वजनिक अवकाश व अन्य छुट्टियाँ

01-परिवार

अच्छी कमाई के बाद भी प्रवासी के गरीब बने रहने का मुख्य कारण है उनका परिवार, दोस्त व रिश्तेदार जो उन पर पूरी तरह से निर्भर हो जाते हैं। आवश्यकता अनुसार उन्हें पैसे मिलते रहते है चाहे वो पैसे विदेशी दोस्तों से कर्ज के रूप लिया गया हो या कंपनी से एडवांस के रूप में, परिवार व रिश्तेदारों को तो यही लगता है कि आपको विदेश में उच्च आय प्राप्त हो रही है जो उनके सभी समस्याओं के लिए पर्याप्त है। पढ़ेगामका (GAMCA) मेडिकल टेस्ट संक्षिप्त गाइड व प्रश्न

02-कर्ज 

यह गरीब रहने का दूसरा मुख्य कारण है आपके परिवार की सोच बन जाती है जब एक बार आप ने विदेश में काम करना शुरू कर दिया है तो आपको अच्छी आमदनी प्राप्त होती रहेगी यह विश्वास करते हुए परिवार के सदस्यों के जरूरत मे बढ़ोतरी हो जाती है व बिना किसी प्लान के संपत्ति अर्जित करने के चक्कर मे कर्ज या ऋण के रूप में दूसरों से या बैंक से पैसे उधार लेना सुरू कर देते हैं। नतीजतन, जब वे घर वापस आते हैं तो परिस्थितियों के लिए दोषी भी ठहरा दिया जाता है। पढ़ेगोल्ड कैरेट क्या है? 24K, 22K और 18k के बीच क्या अंतर है

03-मनी मैनेजमेंट

यह सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, कुवैत,क़तर,ओमान या अन्य किसी देश मे काम करने वाले लगभग सभी प्रवासियों की मुख्य समस्या मनी मैनेजमेंट है। उनके पास दूरगामी (लंबे समय तक) की योजना नहीं होती है या उनके जीवन में कोई लक्ष्य नहीं होता है। पढ़े-क्या आप एक प्रवासी है? अपने रिटायरमेंट की योजना बना रहे हैं?

उन्हें लगता है कि उनकी नौकरी स्थायी है और उन्हें हर महीने इसी प्रकार समय पर सैलरी मिलती रहेगी। यह सोचकर कि वे और उनका परिवार अपनी मासिक आय महीने के शुरुआत के कुछ दिनों में खर्च कर देते हैं और फिर अगले महीने के वेतन की प्रतीक्षा करने लगे है। 

मेरा मानना है, जीवन अनमोल है अतः आप अपना टारगेट सेट करें अपनी बुनियादी जरूरतें पूरी कर फाइनेंशियल प्लानिंग पर काम करें ना की पूरी ज़िंदगी वर्किंग मशीन बने रहे वो कहावत है ना “ये ज़िंदगी ना मिलेगी दुबारा”🙏

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments