सऊदी हुकूमत ने कोविशील्ड वैक्सीन को एस्ट्राजेनेका के समकक्ष मान्यता दिया

रियाद स्थित भारतीय दूतावास ने रविवार को घोषणा करते हुए कहा कि सऊदी हुकूमत ने कोविशील्ड (Covishield) वैक्सीन को एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca) वैक्सीन के बराबर के रूप में मान्यता दी है।

इससे भारतीय प्रवासियों को सऊदी अरब प्रवेश करने पर क्वारंटाइन की जरूरत खत्म हो जायेगी। एस्ट्राजेनेका-ऑक्सफोर्ड सऊदी अरब में स्वीकृत टीकों में से एक है। एस्ट्राजेनेका-ऑक्सफोर्ड ही भारत में कोविशील्ड (Covshield) वैक्सीन का निर्माता है। पढ़े-सऊदी अरब में पासपोर्ट ऑनलाइन प्रक्रिया

सऊदी अरब स्थित भारतीय दूतावास ने अपने ट्वीट में लिखा है “दूतावास को यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि सऊदी अधिकारियों ने भारतीय वैक्सीन कोविशील्ड को एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के समकक्ष के रूप में मान्यता दी है जिसे सऊदी अधिकारियों द्वारा अनुमोदित किया गया है।”

फाइजर-बायोएनटेक, मॉडर्ना, ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका और जॉनसन एंड जॉनसन उन कंपनियों में शामिल हैं जिन्हें सऊदी अरब ने टीके के रूप में स्वीकृत किया गया है। 

इससे पहले भारतीयों प्रवासियों को इमिग्रेशन अधिकारियों व एयरलाइनों स्टाफ को यह समझाने में कठिनाई होती थी कि कोविशील्ड और एस्ट्राजेनेका टीके एक ही है। पढ़े-सऊदी अरब में कारोबार के लिये 20 स्मॉल बिजनेस आइडिया-2021

हाल ही में सऊदी अरब के नागरिक उड्डयन के जनरल अथॉरिटी (GACA) ने घोषणा किया था कि देश में प्रवेश करने वाले आगंतुकों को कोरेंटिन से छूट दी जाएगी अगर उन्होंने सऊदी अरब द्वारा अनुमोदित कोविड-19 वैक्सीन डोज का लिया है।

सऊदी अरब में कोरेनटाइन से मुक्त होने के लिए यात्रियों के पास उनके मूल देश द्वारा प्रमाणित टीकाकरण प्रमाण पत्र भी होना आवश्यक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here