सऊदी अरब में महिलाओं के स्वामित्व वाले व्यवसाय बढ़ रहे हैं

सऊदी अरब अपने विज़न 2030 पर लगातार काम कर रहा है जिसका एक हिस्सा महिला सशक्तिकरण और सरकार द्वारा बनाए नीतियों को लागू करना है। वास्तव में अब किंगडम की महिलाएं दुकान और व्यवसाय, टेक फर्म और स्टार्ट-अप चलाने के लिए पहले से कहीं अधिक व्यवसाय लाइसेंस प्राप्त कर रही हैं। 

अरब न्यूज़ में छपे एक लेख के अनुसार, वाणिज्य और निवेश मंत्रालय ने लगभग 88,000 व्यावसायिक पंजीकरण जारी किए हैं जिनमें से सबसे अधिक संख्या रियाद (20,086), जेद्दा (13,826) और मक्का (5,098) में पाई गई है। पढ़ेसऊदी अरब में कारोबार के लिये 20 स्मॉल बिजनेस आइडिया-2021

किंगडम के विजन 2030 के मूल में यह विश्वास व्यक्त किया गया है कि महिला सशक्तिकरण एक समृद्ध समाज और सतत विकास के लिए आवश्यक आधार प्रदान करेगा। यही कारण है कि किंगडम महिलाओं के लिए समृद्ध आर्थिक अवसर पैदा करने उन्हें नौकरी के बाजार तक आसान पहुंच प्रदान करने और देश की अर्थव्यवस्था और भविष्य के विकास में एक प्रमुख भूमिका निभाने की दिशा में सुधारों की एक श्रृंखला से गुजर रहा है।

सऊदी महिलाएं व्यवसाय स्थापित करने या सशस्त्र बल में शामिल होने सहित हर अवसर का लाभ उठा रही हैं जिससे महिला उद्यमियों और कर्मचारियों में बहुत वृद्धि हुई है। वास्तव में किंगडम में महिला श्रमिकों की संख्या में 48 प्रतिशत की वृद्धि हुई है जिसने अर्थव्यवस्था को नया रूप दिया है। सऊदी अरब ने महिलाओं के अधिकारों में सुधार के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए है। पढ़ेमैं सऊदी अरब से भारत कितना गोल्ड/ कैश ले जा सकता हूं?

एक लोकल अखबार अल बावाबा में छपी एक रिपोर्ट अनुसार सऊदी अरब में शुरू हो रहे प्रत्येक 10 स्टार्टअप में से चार स्टार्टअप महिलाओं के स्वामित्व में हैं जो पिछली पीढ़ियों की तुलना में अधिक वित्तीय स्वतंत्रता वाली महिला आबादी का संकेत है और यह बदलाव स्वागत योग्य भी है।

जिस देश में शादीशुदा महिलाओं को काम की उम्मीद नहीं थी वहां दो आय वाले परिवार अब आदर्श बनते जा रहे हैं।पढ़ेमैं सऊदी अरब कितनी सिगरेट/तंबाकू ले जा सकता हूं?

सऊदी वाणिज्य और निवेश मंत्रालय ने रियाद, जेद्दा, मक्का, दम्माम और मदीना जैसे क्षेत्रों में केंद्र स्थापित किए हैं ताकि महिलाओं को व्यापार सहायता प्रदान की जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here